श्रीमंत यशोधरा राजे सिंधिया ने सीआरपीएफ कैंपस में किया बृक्षारोपण,देखिये पूरी खबर


शिवपुरी।शहर के एबी रोड़ बड़ौदी के आगे बड़ागांव मार्ग पर स्थित सीआरपीएफ सीआईएटी परिसर में आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम में मप्र शासन की कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया शामिल हुईं। इस अवसर पर संस्थान के आईजी मूलचंद पंवार ने अगवानी की। साथ ही जिला कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह व पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल, प्रमुख वन संरक्षक डी.के.पालीवाल, कमाण्डेट सुरेश कुमार यादव, जिला वनमंडलाधिकारी अधिकारी श्रीमती मीना मिश्रा भी इस कार्यक्रम में हुए। जिन्होंने सीआरपीएफ सीआईएटी में शीशम, नीम, कुसुम, गुलमोहर, जामुन तथा बेलपत्र आदि के हरे-भरे परिसर में पौधरोपण किया। इस अवसर पर विभिन्न प्रकार के 3000 पौधों का यहां वृक्षारोपण के रूप में विभिन्न चरणो में रोपा गया है। यहां सीआरपीएफ सीआईएटी की गतिविधियों को लेकर संस्थान के आईजी मूलचंद पंवार ने कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया से चर्चा करते हुए जानकारी प्रदान की।

 

संस्थान परिसर में किया गया यह कार्यक्रम गृह मंत्रालय, भारत सरकार के निर्देशानुसार वर्ष-2020 सभी केंद्रीय सशस्त्र बलों के लिए मानवीय संवेदनाओं को जागृत करने के वर्ष के रुप मे मनाया जाना सुनिश्चित किया गया था। इसी कार्यक्रम को आगे बढाते हुए सीआईएटी स्कूल शिवपुरी मे वृक्षारोपण अभियान किया गया जो कि इसी कड़ी का तीसरा चरण है। इससे पहले बीती 5 जून पर्यावरण दिवस एवं 29 जून को पौधे लगाए गए थे। वृक्षों की देखभाल व सुरक्षा के लिए जवानों व अधिकारियों का समूह बनाया गया है जिनकी जिम्मेदारी आवंटित क्षेत्र में वृक्षारोपण करना, रोपित वृक्षों को पानी देना, उनके विकास पर निगरानी रखना तथा किसी पौधे के नष्ट होने पर उसकी बदली करना है।

इस अवसर पर सीआईएटी स्कूल के समस्त अधिकारीगण, अधीनस्थ अधिकारीगण सहित संस्थान में उपस्थित प्रशिक्षक व उनके परिवारजनों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। इस कार्यक्रम की समाप्ति वृक्ष, पानी और स्वच्छ हवा, यह तीन है, जीवन रक्षा की अनमोल दवा, सुन्दर पंक्ति के साथ हुई।


वृक्षारोपण कर पर्यावरण संरक्षण के प्रति किया जागरूक

इस कार्यक्रम के माध्यम से संस्थान के कार्मिको को पर्यावरण संरक्षण एवं प्रदूषण की रोकथाम के लिए जागरूक किया गया तथा यह संदेश दिया गया कि मानव और पर्यावरण एक दूसरे पर निर्भर होते है। पर्यावरण का प्रदूषित होना या वृक्षों का कम होना मानव शरीर और स्वास्थ्य पर सीधा असर डालते है। मनुष्य की अच्छी आदतें जैसे वृक्षों को सहेजना, जलवायु प्रदूषण, रोकना एवं स्वच्छता रखना  पर्यावरण को प्रभावित करती है तथा कुछ बुरी आदतें जैसे पानी दुषित करना, बर्बाद करना, वृक्षों की अत्यधिक मात्रा में कटाई करना, आदि पर्यावरण को बुरी तरह से प्रभावित करती हैं। जिसका नतीजा बाद में मनुष्य को प्राकृतिक आपदाओं का सामना करके भुगतना पडता है। इसलिए वृक्ष लगाना जरूरी है।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !